बदमाशों ने पीडित की पत्नी के कपड़े खोले व बेटी से की दुष्कर्म की कोशिश

जगदीश यादव
कोलकाता। महानगर कोलकाता में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी सहित खुदकुशी करने के लिये देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द व देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र भेजा है। भले ही इस मामले पर हैरत हो लेकिन यह सही है। दक्षिण कोलकाता के कसबा के निवासी पेशे से वाहन चालक ओम प्रकाश गुप्ता ने उक्त पत्र लिखा है। आज ओम प्रकाश गुप्ता ने बताया कि वह भाजपा का समर्थक है और वह समान्य लोगों की तरह ही जिन्दगी यापन करना चाहते है लेकिन उसके इलाके में कथित कुछ तृणमूल कर्मियों के द्वारा उनके परिवार के लोगों को इतना उत्पीड़ित किया जा रहा है कि वह लोग और पीड़ा नहीं झेल सकते हैं इस लिये उन्होंने अपनी पत्नी सहित खुदकुशी करने के लिये देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द सहित देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र भेजा है। गुप्ता के आरोपो के अनुसार उनके मकान मालकिन के इशारे पर सत्तारुढ़ पार्टी के दबंगों द्वारा उत्पीडि़त किया जा रहा है। कुछ दिनों पहले उनके घर में प्रवेश कर कुछ लोगों ने उनके परिजनों को केवल मारा पीटा ही नही बरन उनकी पत्नी के कपड़े खोल दिये और उनकी सात साल की मासूम बच्ची के साथ एक तरह से दुष्कर्म की कोशिश की गयी व बच्ची के विशेष अंग से छेड़छाड़ किया गया। घटना के बाद पुलिस ने उनकी मासूम बच्ची को महानगर कोलकाता के एक होम में भेज दिया है। इतना कुछ घटने के बाद भी उन्हें लगातार धमकियां दी जा रही है और वह लोग दहशत में जी रहें है। कसबा थाने की पुलिस से शिकायत का कोई असर भी बदमाशों पर नहीं हुआ है उल्टे पुलिस पीडित को ही धमका रही है। पीडि़त ओम प्रकाश गुप्ता ने बताया कि उन्होंने मामले पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द सहित देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी,मुख्य न्यायाधीश (सुप्रीम कोर्ट), सीबीआई, मानवाधिकार आयोग, राज्य के पुलिस महानिदेशक, पुलिस आयुक्त, पुलिस उपायुक्त को भी न्याय नहीं मिलने पर खुदकुशी करने के लिये पत्र लिखा है। बहरहाल गुप्ता परिवार का कहना है कि आशा है कि उन्हें न्याय मिलेगा अगर ऐसा नही होता है तो उनके पास खुदकुशी के अलावा और कोई चारा नही है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •