जयदीप यादव
कोलकाता। कहते है कि जब श्याम की कृपा बरसती है और श्याम नाम की खुशबू चारों ओर महकती है तो फिर भक्त अपनी सुधबुध खो देते हैं। बस याद रहता है तो इन भक्तों को बाबा श्याम की भक्ति। जी हां, खिदिरपुर स्थित श्री लक्ष्मी मंदिर में श्री श्याम कला कुंज फतेहपुर के 20 वें वार्षिकोत्सव में कुछ ऐसा ही नजारा दिखा। मानो श्री लक्ष्मी मंदिर श्यामलोक में बदल गया हो। यहां भक्तगणों ने बाबा श्याम की शान में गाये गये भक्ति के बैकुण्ठ में गोते लगाते रहें। यहां श्री श्याम प्रभु की भजनों के बीच भक्त बाबा श्याम की भजनों पर झूमते- थिरकते रहें ।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •