कोलकाता। उत्तर दिनाजपुर के इस्लामपुर में पुलिस फायरिंग के दौरान दो छात्रों की मौत के खिलाफ भाजपा द्वारा 26 सितंबर यानी बुधवार को 12 घंटे की हड़ताल का रास्ता साफ हो गया है। तृणमूल सांसद इदरीश अली की ओर से कलकत्ता हाईकोर्ट में लगाई गई याचिका पर मंगलवार को सुनवाई होनी थी लेकिन एक वरिष्ठ वकील की आकस्मिक मौत के बाद मामले की सुनवाई एक दिन के लिए टाल दी गई। अब बुधवार को इस पर नए सिरे से सुनवाई होगी तब तक भाजपा ने सुबह 6:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक बंद का आह्वान किया है, वह राज्य में शुरू हो जाएगा। कार्यवाह मुख्य न्यायाधीश देवाशीष कर गुप्ता की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने यह सुनवाई इसलिए टाल दी क्योंकि दूसरे पक्ष के वकील एक वरिष्ठ वकील के निधन के चलते अदालत में उपस्थित नहीं हुए थे। इदरीश ने याचिका लगाई है। वह हाईकोर्ट में प्रैक्टिस भी करते थे। उन्होंने भाजपा के बंगाल बंद को रोकने का निर्देश देने की मांग की लेकिन कोर्ट ने सुनवाई को एक दिन के लिए टाल दिया। खंडपीठ ने अली को निर्देश दिया कि बुधवार को अदालत के समक्ष पेश होने के संबंध में वह भाजपा, आरएसएस, पश्चिम बंगाल सरकार और केंद्र सरकार को नए सिरे से नोटिस जारी कराएं। भाजपा ने उत्तरी दिनाजपुर जिले के इस्लामपुर क्षेत्र में शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर प्रदर्शन करने के दौरान एक हाई स्कूल परिसर में दो छात्रों की मौत पर विरोध जाहिर करने के लिए 12 घंटे का बंगाल बंद बुलाया है। बंद बुलाने को चुनौती देते हुए इदरीश अली ने याचिकाकर्ता ऑल इंडिया माइनॉरिटी फोरम के महासचिव एम ए अली की ओर से दलील दी कि नागरिकों को उनके दैनिक कार्य से नहीं रोका जा सकता। इदरीश अली ने कहा कि केरल उच्च न्यायालय ने बंद को अवैध एवं असंवैधानिक ठहराया था और उच्चतम न्यायालय ने इस आदेश को बरकरार रखा था।

Spread the love
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares
  •  
    3
    Shares
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •