सुरक्षा कर्मी ने 10 साल की बच्ची से किस करने के लिए कहा

भुक्तभोगी के मना करने पर दी सजा

गुस्से में लोगों ने किया हंगामा 

हावड़ा। विद्या के मंदिर में इन दिनों यौन शोषण की घटनाओं की जैसे बाढ़ आ गयी है। हावड़ा के बेलूड़ स्थित एक सरकारी स्कूल में एक सुरक्षा कर्मी बापी दास ने पहले 10 साल की बच्ची से उसे किस करने को कहा और जब बच्ची ने मना कर दिया तो उसने बच्ची को बिना रुके उठक-बैठक करने की सजा दे दी। उक्त मामले की जानकारी होने पर लोगों में आज गुस्सा फूट पड़ा और लोगों ने जमकर स्कूल के सामने हंगाम किया। उत्तेजित लोगों ने गुस्से में विरोध प्रदर्शन विरोध किया और सुरक्षा कर्मी बापी दास को निलंबित कर दिया गया । घटना बेलूड़ स्थित बासुदेबपुर सरकारी हाई स्कूल की है। यहां एक सुरक्षा कर्मी बापी दासपर आरोप है कि उसने कक्षा पांच की इस बच्ची से उसे किस करने के लिए कहा। बच्ची ने मना कर दिया तो शिक्षक ने उसे बिना रुके कान पकड़कर उठक-बैठक करने की सजा दे दी। अभिवावकों ने आरोप लगाया है कि कई बच्चों को इस तरह की सजा दी जाती रही है। उन्होंने कहा, ‘हम अपनी बच्चियों को ऐसे स्कूल नहीं भेजना चाहते जहां शिक्षक उन्हें आई लव यू बोलने या किस करने के लिए कहते हैं। ऐसा न करने पर सजा देते हैं।’ अभिवावकों ने सुरक्षा कर्मी बापी दास को गिरफ्तार करने की मांग की। लोगों ने प्रशासन से स्कूल के प्रधान शिक्षक को भी हटाने की मांग की है हैं। वहीं, इस मामले पर स्कूल का कहना है कि सुरक्षा कर्मी बापी दास ने लिखित में अपनी गलती मान ली है। स्कूल ने आश्वासन दिया है कि प्रबंधन बैठक कर सख्त कार्रवाई करेगा। एक अधिकारी ने बताया कि सरकारी स्कूल होने के कारण कोई कार्रवई प्रशासन खुद नहीं कर सकती है। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब महानगर या राज्य के स्कूल में इसतरह की घटना घटी हो। इस तरह की घटनाएं लगातार घट रही है। बहहाल खबर के लिखे जाने तक पुलिस ने आरोपी सुरक्षा कर्मी बापी दास को हिरासत में लेकर पूछताछ तक रही थी।
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share
  •  
    1
    Share
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •