फिर आरोपों के घेरे में एक टीएमसी पार्षद

कोलकाता। अभी एक सप्ताह भी नहीं बिते होगें कि शराबखोरी व बिजली चोरी का विरोध करने पर मटियाबुर्ज में एक युवक की हत्या कर दी गई थी। एकबार फिर उपरोक्त तरह की घटनाएं घटी है। जहां वर्दवान के कटवा में शराब का खिलाफत करने पर एक व्याक्ति संतोष दास (45) की हत्या कीगई वहीं द. चौबीस परगनाके सोनारपुर में रंगदारी का विरोध करने पर स्थीनय निवासी विश्व हल्दर के परिजनों पर हमले कर घायल करने का मामला सामने आया है।पुलिस व लोगों से मिली जानकारी के अनुसार वर्दवान जिले के कटवा में शराब की खिलाफत करने पर एक व्याक्ति संतोष दास की हत्या उसके गले में कपड़े का फंदा कसकर करने का आरोप है। आरोप है कि देर रात को यहां के एक मंदिर परिसर में कुछ लोग बैठकर शराब का सेवन कर रहें थें। जिसका  विरोध संतोष ने किया तो शराब पी रहें लोग उग्र हों गये व संतोष की हत्या शराबियों ने उसके स्वांस को रोक कर कर दिया। मामले में पुलिस ने मंदिर के पुरोहित सह कुल तीन लोगों को हिरासत में लिया है। जबकि मुख्य आरोपी बुद्धदेव सिकदर फरार है।
इधर दक्षिण चौबीस परगना जिले के सोनारपुर के नतूनदिड़ाय में विश्व हल्दर के परिजनों पर इस लिये हमले कर उक्त परिवार के लोगों को घायल किया गया क्यों कि उक्त परिवार के द्वारा कथित तौर पर तृणमूल पार्षद विभाष मुखोप्ध्याय उर्फ मनु व उनके समर्थकों के रंगदारी का विरोध किया गया था। आरोप है कि पार्षद के लोगों हथियार सह हमला किया। पीड़ित परिवार के द्वारा थाने में शिकायतकी गयी है लेकिन पुलिस फिलहाल किसी को गिरफ्तार नहीं किया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •