विवेकानंद के शिकागो भाषण की 125वीं जयंती पर होगा सांस्कृतिक आयोजन

कोलकाता। राज्य भर में राज्य सरकार स्वामी विवेकानंद द्वारा 1893 में शिकागो में आयोजित विश्व धर्म संसद में दिये गये ऐतिहासिक भाषण की 125वीं जयंती के मौके पर 11 सितंबर को ‘संप्रीति दिवस’ के रूप में मनाएगी तथा एक सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन के जरिए पूरे सप्ताह को ‘संप्रीति सप्ताह’ के रूप में भी मनाया जायेगा। राज्य की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी बेलुर मठ में 11 सितंबर को आयोजित किए जाने वाले मुख्य समारोह का उद्घाटन करेंगी। इस समारोह के लिए गठित समिति की पहली बैठक में इस आशय के निर्णय लिए गए। संप्रीति सप्ताह का आयोजन 12 से 19 सितंबर के बीच होगा। नेताजी इंडोर स्टेडियम में 19 सितंबर को समापन समारोह का आयोजन किया जाएगा। राज्य सरकार प्रस्तावित उत्कृष्टता केंद्र के लिए 10 करोड़ रुपये और देगी जिसका निर्माण कार्य न्यू टाउन के इको पार्क के पास चल रहा है। राज्य सरकार ने इससे पहले उत्कृष्टता केंद्र को 10 करोड़ रुपये प्रदान किए थे।उल्लेखनीय है कि स्वामी विवेकानंद ने विश्व धर्म संसद में सद्भाव तथा शांति के विषय पर ओजस्वी भाषण दिया था। कोलंबस द्वारा 400 वर्ष पूर्व अमेरिका की खोज की याद में उस संसद का अायोजन किया गया था। स्वामी विवेकानंद ने ‘सार्वभौमिक धर्म’ की वकालत करते हुए विश्वास व्यक्त किया कि यह भविष्य का धर्म होगा, जहां लोगों को वर्ग, पंथ, लिंग और धर्म से ऊपर उठकर सम्मान दिया जाएगा।

Spread the love
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares
  •  
    3
    Shares
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •