सीबीआई जांच लिए हाईकोर्ट में याचिका हुई स्वीकार 

कोलकाता। कलकाता हाईकोर्ट में  भाजपा कर्मी युवा त्रिलोचन महतो की हत्या मामले में सीबीआई जांच के लिए याचिका दर्ज की गई है। आज भाजपा कर्मी त्रिलोचन के पिता द्वारा याचिका दी गई । मृतक के पिता ने याचिका में मांग की है कि संदिग्ध परिस्थिति में उनके बेटे की मौत हुई है। उनके बेटे की हत्या कर पेड़ पर लटका दिया गया था। मृतक के पिता ने घटना की तह तक सच्चाई जानने के लिए सीबीआई जांच की आवश्यकता पर बल दिया है। मृतक के पिता ने दावा किया है कि 30 मई की रात उनके लिए खाना लाने के लिए बेटा घर से निकला था लेकिन संदिग्ध परिस्थिति में दूसरे दिन पेड़ से लटकता हुआ उसका शव बरामद किया गया। हाल ही में संपन्न हुए पंचायत चुनाव में वह भारतीय जनता पार्टी की ओर से सक्रिय कार्यकर्ता के रूप में काम कर चुका था। उसे लगातार धमकियां भी मिली थीं। ऐसे में इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि उसकी हत्या की गई है एवं दोषियों को सजा दिलाने के लिए निष्पक्ष एजेंसी से जांच जरूरी है। हाईकोर्ट ने भी इस याचिका को स्वीकार कर लिया है और जल्द सुनवाई होगी।माना जा रहा है कि तृणमूल की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ज्ञात हो कि पुरुलिया जिले में एक के बाद एक दो लोगों की हत्या कर शव को टांग देने के मामले में 18 दिन से अधिक का समय बीत जाने के बावजूद मामले की जांच कर रही सीआईडी ने न तो किसी से पूछताछ की है और न ही किसी को गिरफ्तार किया है। इसे लेकर भी गांव के लोगों में भारी नाराजगी का माहौल एवं दावा किया जा रहा है कि प्रशासन के साथ समन्वय बनाकर इन लोगों की हत्या की गई है एवं राज्य सरकार की जांच एजेंसियां अपराधियों को बचाने की कोशिश कर रही है। हाईकोर्ट में याचिका लगाने वाले त्रिलोचन के पिता ने भी इस मामले में जल्द सुनवाई एवं जल्द फैसला देने की मांग की है।उन्होंने आशंका जताई है कि मामले में मौजूद सबूतों को भी मिटाने की कोशिश की जा रही है। जिले के बलरामपुर ब्लॉक में त्रिलोचन महतो (18) 31 मई को सुपढ़ी गांव के एक पेड़ से लटका पाया गया था, जबकि दुलाल कुमार (30) दोहा गांव के पास 02 जून को इलेक्ट्रिक खंभे से मृत हालत में लटका मिला था। दोनों ही के परिजनों ने बताया है कि जिले में पंचायत चुनाव में भाजपा की जीत के बाद तृणमूल के लोगों ने इन्हें अपहरण करके मौत के घाट उतार दिया था और बाद में पुलिस को गुमराह करने के लिए शव को टांग दिया था। इस बीच, भाजपा नेताओं ने पुरुलिया में दो मौतों पर अपना आंदोलन जारी रखा है।इस बीच 27 और 28 जून को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल के दौरे पर रहेंगे। बताया गया है कि 28 जून को वे पुरुलिया जाकर त्रिलोचन महतो और दुलाल दास एवं एक और कार्यकर्ता के परिजनों से मुलाकात करेंगे, जिन्हें पंचायत चुनाव के बाद मौत के घाट उतार दिया गया। इस तरह से लोगों को मारकर टांग देने के मामले प्रकाश में आने के बाद पूरे देश में ममता बनर्जी की सरकार की आलोचना हुई है।
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share
  •  
    1
    Share
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •