माकपा नेता के साथ गोयनिय बैठक का आरोप
तृणूमूल कर्मियों पर तोड़फोड़ का आरोप
तृणूमूल कहा, तोड़फोड़ करने वाले विक्षुब्ध भाजपाइ

कोलकाता। राज्य में सातवें चरण के मतदान के पूर्व फिर एक बार हिंसा देखने को मिली. प्राप्त जानकारी के अनुसार सूबे में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन यानी गुरुवार को रात करीब 11:15 बजे महानगर से सटे दमदम लोकसभा क्षेत्र के नागर बाजार में भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकुल राय व शमीक भट्टाचार्या की गाड़ी पर हमला किया गया.हमले का आरोप तृणमूल कांग्रेस समर्थकों पर लगा है. इतना ही नहीं एक घंटे से अधिक समय तक मुकुल राय सहित भाजपा के अन्य नेताओं को एक गेस्ट हाउस में लोगों ने घेर कर रखा था. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी की दमदम में जनसभा को संबोधित करने के बाद भाजपा नेता मुकुल राय उस घर में जन्मदिन की पार्टी में शामिल होने पहुंचे थे तभी यह हमला किया गया. यह घर नागर बाजार में स्थित है. जब मुकुल राय उक्त घर में पहुंचे तो अचानक सैकड़ों लोग वहां एकत्रित हो गये और गाड़ी में तोड़फोड़ करने लगे. भाजपा का आरोप है कि तोड़फोड़ करने वाले लोग तृणमूल समर्थक हैं. हालांकि, तृणमूल के नेताओं ने आरोप को नकार दिया है और कहा है कि इस घटना से उनके पार्टी समर्थकों का कुछ लेना-देना नहीं है. साथ ही तृणमूल ने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता वहां रुपये बांटने के मकसद से पहुंचे थे. 12:00 बजे के बाद भारी संख्या में पुलिस व केंद्रीय बल मौके पर पहुंचे और तोड़फोड़ करने वालों को हिरासत में लिया. यहां चर्चा कर दें कि राज्य में लोकसभा की उन नौ सीटों के लिए गुरुवार को रात 10 बजे प्रचार समाप्त हो गया जहां अंतिम चरण में चुनाव होने हैं. देश में यह पहली बार हो रहा है जब तय समय से 20 घंटे पहले चुनाव प्रचार खत्म कर दिया गया हो और ऐसा चुनाव आयोग के आदेश के मुताबिक हुआ है.मामले पर मुकुल राय ने कहा कि वह यहां पार्टी के कर्मी के पत्नी के जन्मदिन की पार्टी में आये थे। राय ने कहा कि तृणमूल के लोगों द्वारा किया गया हमला साबित करता है कि राज्य में गुण्डागर्दी किस कदर चरम सीमा पर है। वही मामले पर राज्य के खाद्य मंत्री ज्योति प्रिय मलिक ने कहा कि राय यहां पर माकपा के एक नेता के साथ बैठक करने आये थे ऐसी खबर मिली है. जहां तक तृणमूल के लोगों द्वारा वाहन में तोड़फोड़ व हंगामा करने की बात है तो आरोप निराधार है और जो भी हुआ वह विक्षुब्ध भाजपा समर्थकों ने किया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •