भद्रक के पास एसएलआर व एक बागी पटरी से उतरी

                                                                                      अजय गुप्ता

screenshot20150202191346_board

प्रतिक फोटो

कोलकाता/भद्रक। संतरागाछी-तिरुपति एक्सप्रेस में सवार उन ट्रेन यात्रियों की सांसे तब थम गई जब ट्रेन एक झटके के साथ घिसटने के बाद रुक गई। लोगों में तब ज्यादा आतंक देखा गया जब यात्रियों को पता चला कि वह जिस ट्रेन में सफर कर रहें हैं वह ट्रेन दुर्घटना का शिकार हो गई है। फिर क्या था ट्रेन में यात्री चिखने भी लगे। उक्त ट्रेन में सवार सुरेश प्रसाद सह कई यात्रियों ने आरोप लगाते हुए बताया कि ओडिशा के भद्रक के आसपास रंडिया में  ट्रेन दुर्घटना की शिकार हो गई । उन्होंने बताया कि एक एसएलआर व ट्रेन का एक कमरा पटरी से घिसक गया है। सुरेश प्रसाद ने बताया कि घटना रविवार की रात को लगभग 8 बजे की है। खबर के लिखे जानेतक सेवा को फिर से बहाल करने के लिये रेलवें के कर्मियों के द्वारा प्रयास किया जा रहा था। जबकि ट्रेन को रुके लगभग दो घंटे बित चुके थें। कई ट्रेन य़ात्रियों ने आरोप लगाते हुए कहा कि सुनसान जगह में घटना घटी है। ट्रेन यात्रियों ने आरोप लगाते हुए कहा कि चारों ओर अंधेरें के कारण हमें डर लग रहा है कि एक तो हमलोग हादसे के शिकार हुए हैं और दूसरी ओर हमें कोई लूट नहीं लें। तिरुपति में बाला जी के मंदिर जा रहें कुछ ट्रेन यात्रियों ने कहा कि हादसें में हमलोग बच गये हैं यह तो बाला जी का ही आशिर्वाद है। बता दें कि संतरागाछी-तिरुपति एक्सप्रेस संतरागाछी से रविवार की शाम से पहले 3.50 में रवाना हुई थी। उक्त ट्रेन में कोलकाता के ज्यादतर लोग सफर करते हैं।  

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •