गेरुआ खेमा व सत्ताधारी समर्थक आमने आसने
हंगामा व अशांति की आशंका
हरताल में चलेगें अतिरिक्त परिवहन
हंगामाबाजों से सख्ती से निपटने के निर्देश
महानगर से लेकर जिलों में कंट्रोलरुम

जगदीश यादव
कोलकाता। बुधवार को भाजपा द्वारा आहूत बंगाल बंद का अह्वान प्रदेश भाजपा ने किया है। ऐसे में बंद को लेकर जो स्थिति सामने है इसे देखते हुए कहा जा रहा है कि बंद को लेकर राज्य में तोड़फोड़ से लेकर सत्तापक्ष व भाजपा समर्थकों के बीच संघर्ष की घटना से इंकार नही किया जा सकता है। बंद को विफल करने के लिये राज्य सरकार ने कमर कस लिया है और बंद से निपटने के लिये केवल महानगर में देढ़ हजार पुलिस कर्मियों को सड़कों पर तैनात किया जाएगा। वही परिवहन मंत्री शुभेन्दु अधिकारी ने कहा कि बंद के दौरान अतिरिक्त बसो के अलावा जलपथ में भी अतिरिक्त लांच आदी की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि बंद के दिन 500 अतिरिक्त बस, 40 ट्राम, 20 लांच की सुबह पांच बजे से चलाया जाएगा। तोड़फोड़ व नुकसान होने पर छह लाख तक का मुआवजा वसूला जाएगा। जबकि भाजपा ने कहा कि बंद के दौरान अगर किसी भी तरह की अशांति होती है तो इसके लिए राज्य पुलिस और प्रशासन जिम्मेदार होंगे। महानगर से लेकर हर जिले में ट्रांसपोर्ट के लिये कंट्रोलरुम किये गये है। कोई भी ट्रांसपोर्ट के लिये टोलफ्री न. 22420278 पर फोन किया जा सकता है। यही नहीं व्हाट्सएप पर भी इस न 8902017191 पर शिकायत की जा सकती है। बंद से निपटने कैे लिये राज्य सचिवालय नवान्न्में एक विशेष बैठक भी की गयी। एडीजी (कानून व्यवस्था) अनुज शर्मा ने कहा कि, सभी जिलो के एसपी व डीसी स्तर के पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये गये है कि बंद से जनजीवन को स्वाभाविक रखना ही होगा। जबकि नगर विकास मामलों के मंत्री फिरहाद हकिम ने कहा कि बंद से सख्ती के साथ निपटा जाएगा। वहीं आज प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए यह चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि, “बुधवार को भाजपा द्वारा आहूत बंगाल बंद के दौरान अगर किसी भी तरह की अशांति होती है तो इसके लिए राज्य पुलिस और प्रशासन जिम्मेदार होंगे।” इधर आज बंद को लेकर महानगर कोलकाता सहित राज्य भर में गेरुआ खेमे के द्वारा जुलूस निकाला गया व लोगों से इस्लामपुर कांड के खिलाफ बंद का अह्वान भी किया गया। इधर प्रदेश भाजपा द्वारा बुधवार को सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक बंद को सफल करने राजधानी कोलकाता में श्यामबाजार एवं हजरा से धर्मतल्ला तक दो बड़ी रैलियां निकाली जाएंगी जहां बड़ी जनसभा होनी है। इसमें प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा, मुकुल राय जैसे प्रदेश भाजपा के दिग्गज नेता शामिल होंगे। इसके अलावा हावड़ा, हुगली, उत्तर और दक्षिण 24 परगना समेत राज्य के अन्य जिलों में भी बड़े पैमाने पर पार्टी की ओर से बंद के समर्थन में रैली निकाली जाएगी। दिलीप घोष ने लोगों से आह्वान किया है कि जिस तरह से राज्य में कानून व्यवस्था की अवनति हुई है एवं दिनों-दिन आम जनता समेत विपक्ष के कार्यकर्ता सत्तारूढ़ पार्टी और पुलिस के हाथों प्रताड़ित हो रहे हैं। इसके विरोध में बंद को सफल बनाएं। उन्होंने कहा कि दुनिया में कहीं भी इतना बर्बर प्रशासन नहीं होता होगा कि विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर गोली चला दे एवं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ऐसा करने वालों को दंडित करने के बजाए छात्रों को ही कहे कि उन्होंने गोली चलाई थी। ऐसे में लोगों को आगे आकर बंद को सफल करना चाहिए। यही नहीं उत्तर दिनाजपुर के इस्लामपुर में पुलिस फायरिंग के दौरान दो छात्रों की मौत के खिलाफ भाजपा द्वारा 26 सितंबर यानी बुधवार को 12 घंटे की हड़ताल का रास्ता साफ हो गया है। तृणमूल सांसद इदरीश अली की ओर से कलकत्ता हाईकोर्ट में लगाई गई याचिका पर मंगलवार को सुनवाई होनी थी लेकिन एक वरिष्ठ वकील की आकस्मिक मौत के बाद मामले की सुनवाई एक दिन के लिए टाल दी गई। अब बुधवार को इस पर नए सिरे से सुनवाई होगी तब तक भाजपा ने सुबह 6:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक बंद का आह्वान किया है, वह राज्य में शुरू हो जाएगा। कार्यवाह मुख्य न्यायाधीश देवाशीष कर गुप्ता की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने यह सुनवाई इसलिए टाल दी क्योंकि दूसरे पक्ष के वकील एक वरिष्ठ वकील के निधन के चलते अदालत में उपस्थित नहीं हुए थे। सांसद इदरीश ने याचिका लगाई है।

Spread the love
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares
  •  
    2
    Shares
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •