भाजपा नेताओं के धरने के बाद सख्त आयोग

कोलकाता। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) के कार्यालय की सुरक्षा बढ़ा दी गई। इसके एक दिन पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता मुकुल राय ने सीईओ के चैम्बर में धरने का नेतृत्व किया था। निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने धरने का जिक्र किए बगैर इस बात की पुष्टि की कि इमारत के मुख्य द्वार की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजय बसु ने कहा कि ऐसा किसी तरह के व्यवधान को रोकने के लिए किया गया है। राय के नेतृत्व में भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को सीईओ के चैम्बर में धरने पर बैठ गया था। उन्होंने कूच बिहार लोकसभा सीट के लिए हुए मतदान के दौरान धांधली का तृणमूल पर आरोप लगाया था। बता दें लोकसभा चुनाव का पहला चरण 11 अप्रैल को संपन्न हुआ। इसको लेकर चुनाव आयोग ने कहा कि छिटपुट घटनाओं को छोड़ दें तो मतदान पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा। चुनाव आयोग के अनुसार लोकसभा चुनाव के पहले चरण में सिक्किम (1 सीट) में 69%, मिजोरम (1 सीट) में 60%, नगालैंड (1 सीट) में 78%, मणिपुर (1 सीट) 78.2%, त्रिपुरा (एक सीट) में 81.8%, असम (5 सीट) में 68%, पश्चिम बंगाल (2 सीट) में 81%, फीसदी हुआ मतदान, अंतिम आंकड़ा बढ़ने की उम्मीकद है।वहीं अरुणाचल प्रदेश (2 सीट) में 66%, बिहार (4 सीट) में 50%, लक्षद्वीप (1 सीट) में 66%, महाराष्ट्रश (7 सीट) में 56%, मेघालय (2 सीट) में 67.16%, ओडिशा (4 सीट) में 68%, उत्तर प्रदेश (8 सीट) में 63.69% वोटिंग हुई।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •