की वीणापाणि देवी की मौत पर सीबीआई जांच की मांग

पारिवारिक सदस्य शांतनु ठाकुर को साजिश का शक

कोलकाता। ‘बड़ो मां’ यानी  वीणापाणि देवी की मौत रहस्य के घेरे में है। ऐसा हम नहीं कह रहे हैं। उक्त आरोप मतुआ समाज यानी ठाकुर परिवार के सदस्य शांतनु ठाकुर का है। ऐसे में उन्होंने ‘बड़ो मां’ की रहस्यमयी मौत पर देश के पीएम नरेन्द्र मोदी को एक चिट्ठी भेजा है और घटना की जांच सीबीआई द्वारा कराने की मंशा जाहिर की है। मतुआ समुदाय की महारानी वीणापाणि ‘बड़ो मां’ का निधन हो गया है, लेकिन ठाकुर परिवार के सदस्य शांतनु ठाकुर ने कहा है कि बड़ो मां की संदिग्ध परिस्थितियों में निधन हुआ है। उन्होंने आज बताया कि इस मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक पत्र लिखकर सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। शांतनु ठाकुर का कहना है कि आज जब ‘बड़ो मां’ का शव अंतिम संस्कार के लिए ठाकुर नगर लाया गया, तो उनके निधन को लेकर संदेह पैदा हो गया। ‘बड़ो मां’ की तबियत कब खराब हुई, किसने उन्हें नदिया जिले के अस्पताल में भर्ती कराया, कौन उन्हें एसएसकेएम अस्पताल ले गया, कैसे मौत हुई, इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई। ठाकुर ने आरोप लगाया है कि जब ‘बड़ो मां’ पिछले सप्ताह नदिया जिले के जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल अस्पताल में भर्ती थीं, तब उन्हें उनसे मिलने तक नहीं दिया गया। चिकित्सकों से उनका हालचाल तक नहीं लिया। ऐसे में इसके पीछे कहीं न कहीं कोई साजिश भी हो सकती है। ठाकुर ने कहा कि एसएसकेएम अस्पताल में ले जाने के 24 घंटे के अंदर बड़ों मां का निधन हो गया। ऐसे में निश्चित तौर पर यह सवालों के घेरे में है और इसके पीछे अगर कोई साजिश है तो उसकी जांच के लिए प्रधानमंत्री को मैंने ई-मेल भेजा है। हमने सीबीआई जांच कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि आज के दिन इस तरह की बातें करना ठीक तो नहीं है, लेकिन हमारे समुदाय की सबसे बड़ी महारानी के निधन को लेकर जिस तरह से हमें अंधेरे में रखा गया, वह सवालों के घेरे में है। उल्लेखनीय है कि शांतनु ठाकुर भाजपा के संपर्क में हैं, जबकि मतुआ समुदाय की ममता बाला ठाकुर तृणमूल से सांसद हैं। महारानी के इलाज से लेकर उन्हें अस्पताल में लाने ले जाने की सारी व्यवस्थाएं ममता ठाकुर और उत्तर 24 परगना जिले के तृणमूल अध्यक्ष व मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक ने की थी। शांतनु का इशारा इन्हीं की ओर था। शांतनु ठाकुर ममता मंत्रिमंडल में मंत्री रहे मंजुल कृष्ण ठाकुर के बेटे हैं। मंजुल ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल में मंत्री थे लेकिन बाद में मुख्यमंत्री से मतभेद होने पर उन्होंने इस्तीफा दे दिया था।

Spread the love
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares
  •  
    5
    Shares
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •