700 जुलूस जुलूस से ठप हो सकती है ट्राफिक

अन्य संगठन भी शोभायात्रा में जुटे

कोलकाता। एक बार फिर इस राज्य में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) द्वारा व्यापक स्तर पर रामनवमी मनाने के लिये तैयारी युद्ध स्तर पर की जा रही है। मिली जानकारी में बताया गया है कि विहिप ने पूरे राज्य में 700 जुलूस निकालने का फैसला किया है। ऐसे में इस दिन पूरे राज्य भर में ट्राफिक व्यवस्था ठप हो जाये तो कोई बड़ी बात नही होगी। विहिप के प्रदेश के प्रवक्ता सौरिश मुखर्जी ने बताया कि “पिछले वर्ष, हमने इस पर्व का आयोजन बड़े पैमाने पर किया था। इस वर्ष हम उससे भी बड़ा आयोजन करेंगे।” मुखर्जी ने कहा कि पिछले वर्ष लगभग 40 लाख लोगों ने इस उत्सव में भाग लिया था और इसबार इस संख्या में इजाफा होगा। मुख्य क्षेत्रों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि संगठन को उत्तर दिनाजपुर जिले के इस्लामपुर में 1.5 लाख से दो लाख लोगों के एकत्रित होने की संभावना है। इस्लामपुर रायगंज संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आता है, जहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लोकसभा चुनाव में इसबार अपराजेय ताकत दिख रही है। रायगंज में रामनवमी उत्सव के चार दिन बाद 18 अप्रैल को मतदान होने वाले हैं। मुखर्जी ने हालांकि इस्लामपुर में चुनाव और जुलूस के बीच कोई संबंध होने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, “हम एक हिंदुत्व संगठन हैं। हमारा उद्देश्य हिंदू समाज को एकजुट और मजबूत करना है। हमारा कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है। हम राजनीति में संलिप्त नहीं होते हैं।” यह पूछे जाने पर कि क्या जुलूस में शामिल लोग अपने साथ हथियार रखेंगे? उन्होंने कहा, “पहली बार जुलूस निकाले जाने वाले कई क्षेत्रों में कोई भी अपने पास हथियार नहीं रखेगा। लेकिन पुरुलिया, मिदनापुर और खड़गपुर जैसे क्षेत्रों में, पारंपरिक हथियारों को रखने की परंपरा है। इसलिए, प्रतिभागी अपने पास हथियार रख सकते हैं।” वैसे सिर्फ विहिप ही नही राज्य में तमाम स्वंय सेवी संगठनों के द्वारा बा बड़ पैमाने पर रामनवमी के जुलूस का आयोजन किया जाएगा।
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •