मुंबई । दिग्गज फिल्म और टीवी अभिनेत्री रीमा लागू का गुरुवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक, रीमा (59) ने कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल (केडीएएच) में आखिरी सांस ली. उन्हें बुधवार आधी रात को यहां भर्ती कराया गया था.रीमा का पति विवेक लागू से तलाक हो गया था और उनकी एक बेटी मृणमयी लागू (35) है जो फिल्म एवं थिएटर कलाकार है.रीमा को छोटे और बड़े पर्दे पर आधुनिक एवं समझदार मां की उनकी भूमिका के लिए याद किया जाता है. रीमा ने ‘हम आपके हैं कौन’, ‘आशिकी’, ‘कुछ कुछ होता है’, ‘हम साथ साथ हैं’, ‘मैंने प्यार क्यों किया’, ‘कल हो ना हो’, ‘वास्तव’, ‘साजन’, ‘रंगीला’ और ‘क्या कहना’ जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया है. उन्होंने छोटे पर्दे पर ‘खानदान’, ‘श्रीमान, श्रीमती’, ‘तू तू, मैं मैं’, ‘दो और दो पांच’ धारावाहिकों में काम किया है. वह फिलहाल, स्टार प्लस पर प्रसारित हो रहे महेश भट्ट के धारावाहिक ‘नामकरण’ में काम कर रही थीं. रीमा ने मराठी फिल्मों में भी काम किया है. उन्होंने ‘घर तिघांचे हावे’, ‘चल आताप लवकार’, ‘झाले मोकले आकाश’, ‘तो एक क्षण’, ‘पुरूष बुलंद’ और ‘विथो रखूमई’ शामिल हैं.

रीमा लागू ने 30 वर्ष की आयु में मंसूर खान की फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ में अभिनय किया जिसमें उन्होंने जूही चावला की मां कमला सिंह की मां के किरदार को पर्दे पर जिया. बेहतरीन अभिनेत्री रीमा जल्द ही ममतामयी मां का पर्याय बन गईं. उन्होंने पर्दे पर सलमान खान और शाहरख खान से लेकर गोविंदा तथा माधुरी दीक्षित तक हिंदी फिल्म उद्योग के कई शीर्ष अभिनेताओं एवं अभिनेत्रियों की मां का किरदार निभाया. उनकी सर्वाधिक सफल फिल्मों में ‘हम आपके हैं कौन’ शामिल है जिसमें उन्होंने अनुपम खेर की पत्नी एवं माधुरी दीक्षित की मां की यादगार भूमिका निभाई.

रीमा ने धारावाहिकों ‘श्रीमान श्रीमती’ में कोकिला (कोकी) और ‘तू तू-मैं मैं’ में देवकी वर्मा का किरदार निभाकर टेलीविजन जगत में लोकप्रियता हासिल की. रीमा ने ‘साजन’,‘वास्तव’, ‘कुछ कुछ होता है’, ‘हम साथ साथ हैं’, ‘दीवाना मस्ताना’, ‘यस बॉस’ और ‘मैं प्रेम की दीवानी हूं’ जैसी कई फिल्मों में अभिनय किया. उन्होंने चार दशक तक अभिनय किया और वह ‘नामकरण’ धारावाहिक में अभिनय कर रही थीं जो स्टार प्लस पर प्रसारित होता है. करण जौहर, प्रियंका चोपड़ा, रिषि कपूर, महेश भट्ट और बोमन ईरानी ने रीमा के अचानक हुए निधन पर शोक व्यक्त किया है.

‘नामकरण’ के निर्देशक महेश भट्ट ने  कहा, ‘जब किसी दोस्त का निधन होता है तो व्यक्ति गहरे मौन में चला जाता है. मैं उस मुलाकात को नहीं भूल सकता जब हम आखिरी बार मिले थे. हमने एक दूसरे से ‘नामकरण’ के सेट पर जल्द की मुलाकात करने का वादा किया था.’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन ऐसा नहीं हुआ. मैं उनके अचानक निधन के समाचार से अब भी उबर नहीं पाया हूं.’

कुछ कुछ होता है’ का निर्देशन करने वाले जौहर ने कहा, ‘यह वास्तव में दुखद समाचार है… वह गरिमापूर्ण एवं असाधारण अभिनेत्री थीं… मुझे उनका निर्देशन करने का सौभाग्य मिला था…’ प्रियंका ने कहा, ‘ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे. रीमा लागू के निधन से कला एवं सिनेमा को बड़ा नुकसान हुआ है. आप स्क्रीन की हमारी पसंदीदा मां हैं और हमेशा रहेंगी. मैं उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करता हूं.’

रीमा के साथ ‘प्रेम ग्रंथ’ एवं ‘हिना’ में काम करने वाले रिषि कपूर ने ट्वीट किया, ‘ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे. मैंने उनके साथ कुछ फिल्मों में काम किया. रीमा लागू मेरी अच्छी दोस्त थीं.’ ईरानी ने पोस्ट किया, ‘हमारी अत्यंत प्रिय रीमा लागू नहीं रहीं. वह बहुत दयालु, मजाकिया और प्यारी थीं. मैं उनके निधन से दुखी हूं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे.’ रितेश देशमुख ने कहा, ‘मैं सकते में और दुखी हूं. रीमा लागू जी की हमेशा याद आएगी. रंगमंच एवं सिनेमा में उनकी प्रतिष्ठित भूमिकाओं के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे.’

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •