राजनीतिक दलों ने डीएम को गिरफ्तार करने की मांग की

कोलकाता। फेसबुक पर पत्नी के खिलाफ कथित अश्लील टिप्पणी से नाराज अलीपुरदुआर जिले के जिलाशासक निखिल निर्मल के थाने में घुस कर अभियुक्त युवक की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद उनको पद से हटा कर छुट्टी पर भेज दिया गया है। मानवाधिकार संगठन एसोसिएशन फार द प्रोटेक्शन ऑफ डेमोक्रेटिक राइट्स (एपीडीआर) ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से इस मामले की शिकायत की है। विपक्षी राजनीतिक दलों ने जिलाशासक को गिरफ्तार करने की मांग की है। यह मामला जिले के फालाकाटा थाने का है। वीडियो में जिलाशासक निखिल निर्मल और उनकी पत्नी अभियुक्त युवक को पुलिस अधिकारियों के सामने थप्पड़ों और घूंसों से पीटते नजर आ रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि अभियुक्त विनोद जिलाशासक की पत्नी का फेसबुक मित्र था। सूत्रों ने बताया कि विनोद की टिप्पणी के कुछ देर बाद ही फालाकाटा थाने की पुलिस उसे घर से उठा कर थाने ले गई। कुछ देर बाद जिलाशासक भी पत्नी के साथ थाने पहुंचे और वहां उसकी पिटाई शुरू कर दी। थाने से अस्पताल जाते समय विनोद ने पत्रकारों को बताया कि वह नंदिनी किशन का फेसबुक मित्र है। चैटिंग के दौरान किसी बात पर विवाद होने पर उन्होंने उसे एक समूह में जोड़ दिया जहां तमाम लोगों ने उसे गालियां दीं। इस बीच, एपीडीआर के कंजीत सूर ने कहा है कि संगठन जिलाशासक, उनकी पत्नी और घटना के समय थाने में मौजूद पुलिसवालों के खिलाफ राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से शिकायत की है। विपक्षी राजनीतिक दलों ने जिलाशासक को गिरफ्तार करने की मांग उठाई है। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा कि जिले के प्रशासनिक प्रमुख को ऐसी हरकत शोभा नहीं देती। अगर वही ऐसी हरकत करेगा तो जूनियर अधिकारियों से क्या उम्मीद की जा सकती है। उनको तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •