फरार एम्बुलेंस चालक की तलाश जारी

बीरभूम। आमतौर पर एम्बुलेंस की साइरन की आवाज सुनकर हम सभी चौकने हों जाते है और तुरंत इस वाहन को रास्ता दे देते है। कारण हमे पता होता है कि यह एक ऐसा वाहन है जो किसी की भी जान बचाने के लिये इस्तेमाल में आता है। इसे विडम्बना कहें या फिर एक एम्बुलेंस के कारण तीन लोगों की मौत हो गई। ट्राफिक पुलिस सूत्रों ने बताया कि बीरभूम जिले के कटुआ-सिउड़ी रोड पर केउदया मोड़ इलाके में एक एम्बुलेंस के साथ हुई टक्कर में आज सुबह दो बाइक सवारों एवं एक साइकिल सवार की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार मृतकों के नाम शेख गयासुद्दीन (45), जैसमिन बीबी (35) एवं नीलमाधव हाजरा (47) बताए गए हैं। शेख गयासुद्दीन अपनी पत्नी जैसमिन बीबी के साथ मोटरसाइकिल से अपने गांव भ्रमरकोला से पड़ोस के एक गांव में जा रहे थे तभी विपरीत दिशा से तेजी से आ रही एक एम्बुलेंस ने उन्हें रौंद दिया। घटनास्थल पर ही पति-पत्नी की मौत हो गई। इसके बाद सामने से रही एक साइकिल को भी एम्बुलेंस ने जोरदार टक्कर मारी और फरार हो गया। इस दुर्घटना में बुरी तरह घायल नीलमाधव हजारा को स्थानीय लोग सिउड़ी अस्पताल ले गए जहां थोड़ी देर बाद उनकी भी मौत हो गई। इसी बीच सिउड़ी थाने की पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और फरार एम्बुलेंस चालक के तलाश में जुटी है।वैसे इस घटना को लेकर पुलिस वाले भी अफसोस जाहिर कर रहे हैं कि जान बचाने वाले वाहन के कारण तीन लोगों की जान चली गई।
Spread the love
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares
  •  
    2
    Shares
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •