घटना स्थल पर पहुंची बम निरोधक दस्ता

कोलकाता। एक बार फिर कलकत्ता हाईकोर्ट में तब सनसनी के साथ ही दहशत फैली जब कोर्ट परिसर में मौजूद वकिलों ने यहां एक परित्याक्त बैग को देखा। उक्त बैग को देख कर बम होने की खबर तुरंत ही चारों ओर फैल गयी । घटना की सूचना पुलिस को देने पर हेयर स्ट्रीट थाने की पुलिस ने बम निरोधक दस्ते को मामले की जानकारी देने पर बम निरोधक दस्टे की टीम व पुलिस ने आकर घटना स्थल के आसपास से लोगों को हटाया व बैग की जांच की। बैग तीन तल्ले पर कोर्च अधिकारियों के कक्ष के सामने रखा हुआ था। बम निरोधक दस्ते के अधिकारियों ने दो स्नीफर डाग के साथ बैग की जांच की। बैग में बम नहीं मिला तो कोर्ट में मौजूद लोगों ने राहत की सांस ली। लेकिन वही कहावत एक बार सामने आयी कि खोदा पहाड़ व चुहिया ही निकली। काले बैग से पानी का एक बोटल, टीफिन बाक्स, गोंद और कानूनी मामले से जूड़े कुछ दस्तावेज ही पाये गये। ज्ञात रहे कि वर्ष 2015 में कलकत्ता हाईकोर्ट में पहुंचे एक पत्र ने सनसनी फैला दी थी। दिन में लगभग डेढ़ बजे शतवार्षिकी भवन के कर्मचारियों को एक पत्र मिला था। जिसमें भेजने वाले का नाम नहीं लिखा था। पत्र भेजने वाले ने लिखा था कि मुकदमे में हार होने पर वह हाईकोर्ट को बम से उड़ा देगा। पत्र देखते ही कर्मचारियों ने हाईकोर्ट के सुरक्षा विभाग को इसकी सूचना दी। बाद में लालबाजार थाने से भी सम्पर्क किया गया। बम निरोधी दस्ते के लोग पहुंचे थे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •