शान शौकत से मनाया गया जन्म दिवस

जाकिर अली
कोलकाता। देश की पहली राजधानी एक्सप्रेस 50 वर्ष की हो गई है। 1 मार्च 1969 को नई दिल्ली से हावड़ा और 3 मार्च 1969 को हावड़ा से नई दिल्ली के बीच राजधानी एक्सप्रेस का परिचालन शुरू हुआ था। आज राजधानी एक्सप्रेस का जन्म दिन लाड प्यार यूं कहे की शान शौकत से मनाया गया। राजधानी एक्सप्रेस के ट्रेन के पूर्व अधीक्षक सुबोध चौधरी ने आज दुल्हन की तरह सजी धजी राजधानी को हरि झंड़ी दिखा कर रवाना किया तो वह भावुक भी होॆ गये।सुबोध चौधरी 31 जुलाई 1989 तक राजधानी के अधीक्षक रहेे। इस अवसर पर ट्रेन के पूर्व गार्ड शंकर दास चट्टोपाध्याय, व ट्रेन के पूर्व उपाधीक्षक गनेन्द्र चौधरी तालुकदार विशेष तौर पर आमंत्रित रहे। वहीं पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक श्री हरिन्द्र राव,अपर महाप्रबंधक श्री संजय सिंह गहलोत, मंडल रेल प्रबंधक श्री इशाक खान, व पूर्व रेलवे, हावड़ा और अन्य रेलवे अधिकारियों की उपस्थित रहें। इस दौरान राजधानी ट्रेन के जन्म दिवस पर केक काटे गये व एक ग्रीटींग कार्ड भी जारी किया गया। पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक श्री हरिंद्र राव ने ट्रेन के सभी यात्रियों को शुभकामनाएं दीं। ग्रीटिंग्स कार्ड विशेष रूप से तैयार किया गया है, जिसमें राजधानी के 50 साल के अतीत की भी जानकारी यात्रियों को मिली। ऐसा कहा जाता है कि राजधानी एक्सप्रेस ने अपनी पहली यात्रा तीन मार्च 1969 को नौ वैक्यूम ब्रेक वाले डिब्बों के साथ शुरू की थी। इसे इंटीग्रल कोच फैक्ट्री, पेरांबूर में बनाया गया था, जिसमें 2 पावर कार, 5 एसी चेयर कार, 1 एसी डाइनिंग कार और 1 एसी क्लास क्लास कोच शामिल थे। समय बीतने के साथ, राजधानी एक्सप्रेस विकास के सफल चरणों से गुजरी। राजधानी एक्सप्रेस से पहले 60 से 70 किमी प्रति घंटे की गति से ही ट्रेनें चलती थी। देश की पहली ट्रेन यही थी जो 120 की रफ्तार से पटरी पर दौड़ी।

Spread the love
  • 10
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    10
    Shares
  •  
    10
    Shares
  • 10
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •