सीजीओ कॉम्प्लेक्स में 20 जून को लगानी होगी हाजिरी

नलिनी के खाते में किये गये थे सौ करोड़ रुपये ट्रांसफर 

कोलकाता। जैसा की माना जा रहा था कि शारदा घोटाले की आग फिलहाल ठण्डा नही होगी ठीक वैसा ही हुआ।  शारदा चिटफंड घोटाला मामले में धनशोधन की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक बार फिर पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरम को समन भेजा है। इस चौथे समन के जरिए उन्हें आगामी 20 जून को कोलकाता के सॉल्टलेक स्थित सीजीओ कॉम्प्लेक्स दफ्तर में हाजिर होने के लिए कहा गया है। ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि मद्रास हाईकोर्ट के निर्देशानुसार इन्हें नया समन भेजा गया जिसमें उन्हें 20 जून को हाजिर होने को कहा गया है। शारदा समूह की ओर से नलिनी के के खाते में सौ करोड़ रुपये ट्रांसफर किए गए थे। इस बारे में मीडिया में वे अनौपचारिक तौर पर कहती रही है कि समूह की कानूनी सलाहकार के रूप में उन्होंने अपनी मेहनताने के रूप में ये रुपये लिए थे। बहरहाल धनशोधन की जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय की टीम उनके दावे से संतुष्ट नहीं हैं एवं उनसे कुछ सवालों का जवाब लेना चाहती है। पूछताछ कर उनका बयान रिकॉर्ड किया जाएगा। हालांकि पूर्व केंद्रीय मंत्री की पत्नी 2016 से अब तक तीन बार ईडी के समन को दरकिनार कर चुकी है। उन्हें सबसे पहले 7 सितंबर 2016 को समन भेजा गया था लेकिन वह हाजिर नहीं हुई।उसके बाद 2017 में दूसरा समन भेजा था। नलिनी ने उसे भी दरकिनार कर दिया। इसके बाद इस साल 30 अप्रैल को ईडी ने तीसरा समन भेजा था जिसमें उन्हें 7 जून को हाजिर होना था। लेकिन उन्होंने इसके खिलाफ मद्रास हाईकोर्ट में याचिका लगाई और कहा कि वह महिला हैं इसलिए अपने आवास से बाहर पूछताछ के लिए हाजिर नहीं होना चाहती।न्यायाधीश ने साफ किया था कि मामले की जांच कर रही टीम द्वारा पेश किए सबूतों और हालातों के मद्देनजर नलिनी का दावा स्वीकार नहीं किया जाएगा और उन्हें पूछताछ के लिए हाजिर होना होगा। उसके बाद ही ईडी को निर्देश देते हुए नया समन जारी करने का आदेश दिया था।
Spread the love
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares
  •  
    2
    Shares
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •