क्या कहते हैं आपके सितारे। कर्म और भाग्य आपका बस कुछ सुझाव हमारा जिससे आपकों मिल सकती है नई दिशा और सटीक रास्ता। हम कोई दावा-दिखावा नहीं करना चाहते हैं लेकिन सच कहें तो सितारे अपनी चाल चलते हुए आपके जीवन पर प्रभाव डालते हैं। पेश हैं इस दीपावली आने वाले प्रकाश पर्व तक का आपका राशिफल ।

पं.विजय कुमार उपाध्याय शास्त्रीvijay upadhay 2

मेष : (चू, चे, चो, ली, ली, ली, लो आ)

यह दीपावली आपके लिए विशेष शुभ फलदायी होगी ।वर्ष भर कठिन कार्य सरलता से बन जाएंगे। युवा एवं विद्यार्थियों और महिलाओं के लिए सफल और सम्मानदायक है. इस राशि वाले जो महानुभाव तकनीकी कला कौशल के ज्ञान से संपन्न हैं, उनको भी परिश्रम के अनुसार वांछित अर्थ प्राप्ति हो जाएगी। सट्टा-जुआ से दूर ही रहना उचित होगा।

वृष : (ई, उ, ए, ओ, व, वी, वे, वो)

दीपावली मध्यम फलकारक रहेगी।  धन लाभ की दृष्टि से नवम्बर और दिसम्बर के महीने बहुत ही अनुकूल सिद्ध होंगे।  वर्ष भर स्थायी और अस्थायी व्यवसाय से अकल्पित लाभ होगा।  जो जातक आधुनिक व्यावसायिक शिक्षा या उच्च स्तर की डिग्री और व्यावसायिक अनुभव से संपन्न हैं, उन्हें देश- विदेश के कारपोरेट क्षेत्र में लाखों के पैकेज मिलेंगे।

मिथुन : (क, कि, कु, घ, ड़, छ, के, ह)

दीपावली काफी  लाभकारी है गत वर्ष का रुका हुआ धन प्राप्त होने से क्षति पूर्ति का हर्ष होगा. सर्वत्र विजय, विभूति, सफलता और मनोरथ सिद्धिकारक सिद्ध होगा. किसी के साथ दगा नहीं करें तो ईश्वर की कृपा बनी रहेगी। महिलाओं के तरफ रुझान तेज होता रहेगा, लेकिन अपने आपकों सम्भालने की कोशिश करें बरना तिल का ताड़ बन सकता है।  

कर्क : (हि, हु, हे, हो, डा, डि, डे, डो)

इस दीपावली के दौरान हो सकता है कि अचल संपति का आपको लाभ मिले. लेकिन समय मानसिक चिन्ता और सन्तान के लिए शारीरिक कष्टकारक वाला हो सकता  है. कुल मिलाकर  शत्रु चिन्ताओं पर अंत में विजय प्राप्त करा के संपूर्ण वर्ष धन धान्य, वस्त्र, अलंकार और जमीन जायदाद का लाभ मिलेगा। गुरुजनों की कृपा बनी रहे इसका ख्याल भी आपको रखना होगा। व्यर्थ के मामलों से बचते रहें।

सिंह :  (मा, मी, मु, मू ,में ,मो, टा, टी टू टे)

इस वर्ष दीपावली में मित्रों से लाभ मिलेगा और कोष वृद्धि होगी. जोखिम के कार्यों में भी भरपूर लाभ होगा.  आप के ज्ञान और अनुभव के आधार पर व्यवसाय में अकस्मात लाभ कराएगा. कुल मिलाकर ये दीपावली आपके लिए काफी समय से लंबित पड़े कार्यों में हलचल पैदा करेगी. व्यापार-व्यवसाय में नया वातावरण दिन – प्रतिदिन अनुकूल होता जाएगा . प्रात:काल के उपरान्त पवित्र जल में लाल फूल अथवा एक चुटकी रोली डाल कर सूर्य को नित्य अर्घ्य प्रदान करें.  

कन्या : (टो, पा, पी, पु, पू, ष,ण, ठ, पे, पो)

यह दीपावली अनेक प्रकार के संकेत लेकर आ रही है. कारोबार में  सफलता दिलाएगा.. देव, गुरु, ब्राह्मणों के प्रति भक्ति भावना जाग्रत होगी. कन्या राशि वाले राजनेता अपने क्षेत्र में यश प्राप्त करेंगे. प्रतिद्वंद्वियों के लिए आप सिर दर्द बने रहेंगे. सुखद समाचारों से चिन्ता का निवारण होगा. आय के नए स्रोत सामने आएंगे. उचित लाभ होने तथा शत्रु पराजित होने से उत्साह बढ़ता रहेगा . महिलाओं के लिए यह वर्ष स्वरोजगार के क्षेत्र में बहुत ही लाभ देने वाला होगा .

तुला : (रा, री,रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)

दीपावली सुखद समाचारों से चिन्ताओं का निवारण करेगी. दाम्पत्य जीवन संबंधित विवाद निपट जाएंगे. आपकी निराशा आशा में परिवर्तित होगी.  आप सरकार अथवा व्यवस्था से जुड़े खतरे और प्रतिबंध से भी आगाह कर रहें. मानसिक स्थिरता व प्रगति हेतु दुर्गा सप्तसती का पाठ करें. शुक्रवार को अंधे ब्राह्मण को खीर-खांड का भोजन कराएं. सफलता देर से सही मिलेगी जरुर.

वृश्चिक : (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, ई, यु)

यह दीपावली आपके जीवन में अपनी वांछित आवश्यकताओं को पूरा करा देने में भी सक्षम है. बार-बार व्यवसाय को बदलना भी आपके लिए हानिकारक सिद्ध होगा. व्यापार करने वाले वृश्चिक राशि वालों को परामर्श है कि जैसे भी हो सके एक ही काम को पूरी लगन और दृढ़ता के साथ करें. महालक्ष्मी की कृपा दृष्टि रहेगी तो उसी काम में बरकत हो जाएगी. श्री रामचरितमानसान्तर्गत सुन्दरकांड पाठ तथा चमेली के तेल में सिन्दूर मिलाकर हनुमान की प्रतिमा पर चढ़ाने से कठिन कार्यों की सिद्धि होगी.  

धनु : (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फ, ढ़)

इस दीपावली पर आप थोड़ा खिन्न रप सकते हैं. सरकार से या फिर पैतृक सम्पत्ति से आप लाभान्वित होंगे. शरीर और स्वास्थ्य संबंधी चिन्ता और बाधाओं का अंत होगा. आगे चलकर दिसम्बर और फरवरी  में घर परिवार के सदस्यों का पूर्ण सुख सहयोग प्राप्त होगा और किसी न किसी सदस्य की आजीविका या व्यापार के सुचारू रूप से चलने के कारण आर्थिक लाभ भी होने लग जाएगा.

मकर : (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)

इस दीपावली के बाद आपके लिए धन कमाने के अच्छे रास्ते मिल सकते हैं. मेहनत व समय निरन्तर लाभ कराकर कोष वृद्धि कराता रहेगा. प्रौढ़ और वरिष्ठ जातकों के लिए ये साल बेहतरीन साबित होगा. इस राशि वाली महिलाएं अपने बलबूते पर अच्छा धन कमाने में कामयाब रहेंगी. विशेष सफलता और मनोरथ सिद्धि के लिए बिना छिलके वाली चने की दाल शुक्रवार की रात को पानी में भिगोकर शनिवार सुबह गुड़ सहित गाय को खिलाते रहें.

कुंभ : (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)

यह दीपवली मध्यम रह सकता है. आपका प्रत्येक कार्य सूझ-बूझ और सोच समझकर करना और आगे कदम बढ़ाना उचित रहेगा. शत्रु एवं विरोधी कभी-कभी हानि पहुंचाने का प्रयास करेंगे, सावधान रहे. हलांकि योजनाएं क्रियान्वित होंगी. अपने ही पराक्रम से धन यश कमाएंगे. आय के नए स्रोत बनेंगे जो लाभप्रद सिद्ध होंगे. इस राशि वाले राजनीतिक वर्ग का परस्पर विरोध उग्र रूप धारण कर सकता है, आरोप- प्रत्यारोप का सामना करना पड़ेगा.

मीन : (दी, दु, थ, झ, , दे, दो, च, ची)

दीपावली के बाद  पूरे वर्ष एक अद्भुत गति, कर्मठता और विजय का अवसर आता रहेगा. जिसके माध्यम से आपके श्रेष्ठ कार्य  आगे बढ़ेगें और लक्ष्य प्राप्ति प्राप्त होगा अभी तक विगत दो वर्षो से चली आ कई समस्याओं  से भी उबर नहीं पाए हैं. ऐसे जातकों के लिए ये दीपावली बड़ी आशाएं लेकर आई है. बस आवश्यकता है सतर्कतापूर्वक ईमानदार चेष्टा की.

Spread the love
  • 27
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    27
    Shares
  •  
    27
    Shares
  • 27
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •