मुकुल राय को कानून के गिरफ्त में लेने की तैयारी
अपनी बात पर अड़े नवोदित भाजपा नेता राय

शंकर हलदर

कोलकाता। लगता है कि मुकुल राय की परेशानियां कुछ ज्यादा ही बढ़ने वाली है। युवा तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष अभिषेक बनर्जी के बाद अब नाकतला उदय संघ मुकुल राय के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने जा रही है। दक्षिण कोलकाता के इस प्रसिद्ध क्लब द्वारा आज एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी पुष्टी करते हुए उक्त बात की जानकारी दी गई है। कारण मुकुल राय ने शुक्रवार को भाजपा की सभी में आरोप लगाते हुए कहा था कि , नाकतला उदयन संघ को आईकोर, एमपीएस, विजियर और प्रयाग जैसे चिटफंड कंपनियों का विज्ञापन मिला था। मुकुल राय ने कहा कि और वर्तमान में इस पूजा कमेटी के महा सचिव पार्थ चट्टोपाध्याय जब राज्य के उद्योग मंत्री थें तब उक्त विज्ञापनों को उन्होंने कमेटी को दिलवाया था। इससे पता चलता है कि इनलोगों का चिटफंड कंपनियों के साथ क्या रिश्ता रहा होगा।
वही दुसरी ओर सीएम ममता बनर्जी के भतीजे व सांसद अभिषेक बनर्जी मुकुल राय के खिलाफ कोर्ट में मामला दर्ज करने की तैयारी में हैं। खबरों मिली जानकारी पर भरोसा करें तो अभिषेक बनर्जी राय को कानूनी नोटिस भेजने की तैयारी में हैं। मिली जानकारी की माने तो नोटिस में कहा जाएगा कि मुकुल राय ने भाजपा की सभा में जो भी अभिषेक बनर्जी के बारे में आरोप लगाये है। उक्त आरोपों का प्रमाण पेश करे वरना 48 घंटे के मध्य ही अपने बातों के लिये माफी मांगें। साथ ही मुकुल राय को मीडिया के सामने भी कहना होगा कि उन्होंने अभिषेक बनर्जी पर जो आरोप लागाए है वह गलत है। अगऱ ऐसा नहीं होता है तो मुकुल राय के खिलाफ दीवानी व फौजदारी का मामला होगा। इधर मुकुल राय ने उक्त मामले पर कहा कि उन्होंने जो भी कहा है वह सोच समझ कर ही कहा है। अभिषेक अगर मामला दर्ज करते हैं तो कर सकते हैं। मेरे पास भी पुख्ता प्रमाण है और समय आने पर उसका उपयोग भी होगा।ज्ञात रहें कि शुक्रवार को धर्मतल्ला में भाजपा रैली सह सभा में मुकुल राय ने तृणमूल के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए जुबानी हमले किये। मुकुल राय ने पहली बार किसी सभा में राज्य की मुख्यमंत्री व तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी पर जुबानी हमले करते हुए कहा कि राज्य में लोग डेंगू से मर रहें है और वह उत्सव कर रहीं हैं। वही मुकुल राय ने इस दौरान यह कहा था कि, जहांतक विश्व बांग्ला का सवाल है तो यह कोई प्रतिष्ठान नहीं है वरन यह अभिषेक बनर्जी की एक कंपनी है। जागो बांग्ला का भी मालिक वही है। ज्योति बसु घुमने के लिये लण्डन जाते थें और यही रोग सीएम को भी है। सीएम के चेहरे से हंसी चली गई है। सुदीप्त सेन ने 140 करोड़ मीडिया व एम्बूलेंस में लगाया था और उसी चिटफंड की बैठक शुभोप्रसन्ना के घर हुई थी।

Spread the love
  • 8
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    8
    Shares
  •  
    8
    Shares
  • 8
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •