वस्त्र खोल दिये व केश सज्जा बिगाड़ा

घटना से लोगों फैला गुस्सा

हिंदु संहति ने मामले पर आयोजकों पर भी उठाया सवाल

जगदीश यादव

bharat mata1हुगली।शरारती तत्वों द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने के मामले में पुलिस ने भले ही दो लोगों को बुधवार गिरफ्तार कर लिया हो लेकिन समाज कंटकों के इस हरकतों से देश भर में गुस्सा भड़क सकता है। 15 अगस्त की ही देर रात को हुगली जिले के रिसड़ा स्थित बांगूरपार्क इलाके में समाज कंटकों ने भारत माता की प्रतिमा को केवल विकृत ही नहीं किया बरन उनके वस्त्र खोल दिये,केश सज्जा बिगाड़ा और प्रतिमा का अपमान किया। स्थानीय लोगों ने बताया कि मामले की जानकारी बुधवार की सुबह तब मिली जब कुछ लोग भारत माता के अस्थायी मंडप में आये तो यहा का दृश्य देख सबके होस उड़ गये। बांगूरपार्क इलाके में स्थानीय बाजपा नेता अशोक वर्मा के नेतृत्व में 15 अगस्त को भारत माता के पूजन का आयोजन किया गयाथा। उक्त घटना के बाद पुलिस ने आकर घटना स्थल की वीडियोग्राफी की और शिकायत दर्ज किया पुलिस का कहना है कि यह काम अराजक तत्वों का हो सकता है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। इधर घटना स्थल पर पहुंचे चुंचुड़ा-मोगरा भाजपा के उपाध्यक्ष आनंद पाठक ने घटना की पुष्टी की और कहा कि जिन्होंने घटना को अंजाम दिया है उन्हें गिरफ्तार किया जाये। अगर कार्रवाई नहीं होती है तो हम आन्दोलन करेगें। मामले पर बात करने पर हिंदु संहति के राज्य सचिव रामतनु भट्टाचार्य ने कहा कि जेहादी टाइप के लोगों द्वारा इस तरह की घटनाओं को लगातार अंजाम दिया जा रहा है और व्यवस्था मौन है। मामले में भारत माता पूजन के आयोजक भी दोषी हैं कारण वह रात में मंडप में सुरक्षा पर शायद लापरवाह ही रहें होंगे वरना घटना नहीं घटती। ज्ञात हो कि 14 अगस्त को जिले के चुंचुड़ा में भारत माता सेवा समिति द्वारा भी भारत माता की पूजाका आयोजन किया गया था। जहां राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने कहा था कि भारत माता की पूजा को को जाति धर्म से जोड़कर नहीं देखना चाहिए। भारत माता की पूजा माता के प्रति सम्मान और अर्पण है।

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •